Taken For Granted Is Not A Bad Thing!!!

शायद इस ब्लॉग पोस्ट को पढ़ कर बहुत सारे लोग मुझे कहे की अखिल आखिर यह क्या लिखा है? ऐसा थोड़े ही होता है, किसी को “Granted” लेना सही थोड़े ही है। अगर आप इनमें से एक है तो कृपा करके पहले मेरे शब्दों को पढ़ लीजिये और उसके बाद मुझे अपनी राय बताईयेगा।

जब मैं यह कहता हूँ की “Granted” लेना गलत नहीं है तो इसका मतलब समझिए। अगर कोई आपको Granted लेता है तो इसका मतलब है की वो आप के ऊपर बहुत ज़्यादा भरोसा करता है, वो जानता है की आप उस काम के लिए बिलकुल सही है। इस बात को एक example के साथ बताता हूँ , जब एक आदमी ऑफिस में काम करके घर आता है और अपनी पत्नी से यह उम्मीद करता है की उसने गरमा गर्म खाना बना रखा होगा तो यहाँ पर उस आदमी ने अपनी पत्नी पर भरोसा किया, उसे “Granted” लिया तो क्या उसने ग़लत किया? मेरे हिसाब से नहीं। हाँ अगर उसकी पत्नी भी कहीं बाहर काम करती है तो अलग बात है क्यूंकि इस स्थिति में अगर वो आदमी ऐसा सोचता है की पत्नी बाहर भी काम करे और घर का भी, तो यह थोड़ा ज़्यादा है। यहाँ पर वो आदमी लालची कहलाया जायेगा। लेकिन अगर यह मान कर चले की पत्नी एक गृहणी है तो वो घर पर रह कर खाना बनाएगी ही (अगर उसकी तबियत ठीक हो तो) । ख़ैर मुद्दे पर आते है अगर आदमी ने यह सोचा की घर पर उसे खाना मिलेगा तो एक तरह से उसने अपनी पत्नी को “Granted” लिया और यह बिलकुल गलत नहीं है।

मैं सही बताऊ तो हम लोगो को Granted लिए जाने में कोई दिक्कत नहीं है, दिक्कत तब होती है जब हम हमेशा Granted लिए जाये। इसे समझने के लिए फिर से ऊपर वाला example लेते है, पति अपनी पत्नी को Granted लेता है और उम्मीद करता है की जब भी वो ऑफिस से घर आएगा उसे खाना मिलेगा। अगर यह आदमी इसे हमेशा के लिए सही मान लेता है और अपनी पत्नी के लिए कुछ नहीं करता तो कुछ सालों के बाद पत्नी को लगने लगेगा की उसकी कोई value नहीं और यहाँ से चीज़ें और रिश्तें ख़राब होने लगते है। तो सवाल यह है की करना क्या चाहिए? जवाब है “Gratitude” या आभार प्रकट करना। यही आदमी अगर अपनी पत्नी के लिए समय समय पर कोई गिफ्ट ले (बिना किसी कारण के) या उसके लिए surprise plan करे या सिर्फ इतना करे की ऑफिस से घर फ़ोन करके कहे की “आज खाना मत बनाना, हम बाहर खाने चलेंगे” बस इतना करने से ही सब ठीक हो जायेगा।

यहाँ पर आप अपनी ज़िन्दगी की कोई स्थिति रखिये जब आप से किसी ने कहा की आपने उन्हें Granted ले रखा है, मैं दावे के साथ कह सकता हूँ की उन्होंने ऐसा एक या दो दिन के बाद नहीं कहा होगा। उन्हें यह कहने में सालों लग गए होंगे, इसीलिए अगर आप एक रिश्ते में है तो उसका आभार प्रकट ज़रूर करें। आपने साथी को बताये की वो आज खूबसूरत लग रही है या उससे कहे की आप कितने lucky है जो वो आपकी ज़िन्दगी में है (बस बहुत ज़्यदा मत कहने लगना) और फिर देखिये वो आपसे कभी कहेंगी या कहेगा की आपने उन्हें Granted ले रखा है।

मैं फिर से दोहराता हूँ किसी को Granted लेने में परेशानी नहीं है, दिक्कत तब है जब आप उसका आभार (Gratitude) प्रकट नहीं करते है।

अगर आप इस बारे में कुछ कहना चाहते है या आपने अनुभव मुझे बताना चाहते है तो comment करें, मुझे आपके बारे में जानकार अच्छा लगेगा।





Leave a Reply